भारत के राष्ट्रपिता एवं वच्चों के प्यारे बापू महात्मा गाँधी का जन्म गुजरात (Gujarat) के पोरवंदर (Porbandar) नामक स्थान पर 2 अक्तूबर 1869 को हुआ था महात्मा गाँधी ने भारत की स्वतंत्रता में अहम् भूमिका निभाई गाँधी जी की हत्या 30 जनवरी 1948 में गोली लगने से हुई थी - आइये जानते हैं - 10 interesting things about Mahatma Gandhi in hindi -  महात्मा गांधी के बारे में 10 रोचक बातें 

महात्मा गांधी के बारे में 10 रोचक बातें
10 interesting things about Mahatma Gandhi

Some interesting facts about Mahatma Gandhiji - महात्मा गांधी जी के बारे में कुछ रोचक तथ्य

  1. एक बार गाँधी जी के पास टिकट होने के बाद भी एक अंग्रेज टिकिट कलेक्टर (Ticket collector) से उन्हें काला कह कर ट्रेन से बाहर फ़ेंक दिया था
  2. सन 1931 की यात्रा के समय गाँधी जी ने पहली बार रेडियो पर अमेरिका के लिए भाषण दिए थे और रेडियो पर उनके पहले शब्द थे "क्या मुझे इसके अन्दर बोलना पड़ेगा "
  3. सन 1930 में अमेरिका की प्रतिष्ठित टाइम मैगजीन ने गाँधी को वर्ष का सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति का पुरुस्कार दिया था
  4. गाँधी जी को अन्तिम संस्कार के लिए जिस वाहन से ले जाया गया था उसी वाहन से मदर टेरेसा को भी ले जाया गया था
  5. गाँधी जी की आत्माकथा "सत्य के साथ मेरा प्रयोग" जो 1927 में प्रकाशित हुई थी इस पुस्तक को गाँधी जी ने गुजरती भाषा में लिखा था
  6. गाँधी जी राष्ट्रपिता की उपाधि सुभाष चन्द्र बोस ने दी थी
  7. गाँधी जी को महात्मा सबसे पहले रविन्द्र नाथ टेगोर ने कहा था
  8. गाँधी जी ने स्वाधीनता आन्दोलन में अपने जीवन के 6 साल 5 महीने जेल में बिताये
  9. गाँधी जी को सन 1948में नोबल पुरुस्कार के लिए चुना गया था लेकिन इस पुरुस्कार प्राप्त करने से पहले उनकी हत्या कर दी गयी
  10. गाँधी जी को 1999. में आइंस्टीन के बाद उन्नीसवीं सदी का दूसरा सबसे प्रभावशाली व्यक्ति चुना गया था
Some interesting facts about Mahatma Gandhiji, What is the most interesting fact about Mahatma Gandhi, Unknown Hidden Facts About Gandhi , 10 Things You Might Not Know About Gandhi, mahatma gandhi facts interesting facts, mahatma gandhi facts about his life, mahatma gandhi essay



loading...

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें