आईपीएल क्रिकेट (IPL Cricket) में बैंगनी टोपी (Purple Cap) उन खिलाडियों को दी जाती है जो एक संस्करण में सबसे अधिक विकेट लेते हैं आइये जानतें हैं अब तक बैंगनी कैप प्राप्त क्रिकेटराेंं की सूची -

player who got the Purple Cap in IPL cricket

आईपीएल क्रिकेट में बैंगनी कैप पाने वाले खिलाडी - player who got the Purple Cap in IPL cricket in hindi

1. सोहेल तनवीर (Sohail Tanvir)

राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals)

सोहेल तनवीर को वर्ष 2008 में 22 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई


2. आरपी सिंह (RP Singh)

डेक्‍कन चार्जर्स (Deccan Chargers)

आरपी सिंह को वर्ष 2009 में 23 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई

3. प्रज्ञान ओझा (Pragyan Ojha)

डेक्कन चार्जर्स (Deccan Chargers)

प्रज्ञान ओझा को वर्ष 2010 में 21 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई

4. लसित मलिंगा (Lasith Malinga)

मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians)

लसित मलिंगा को वर्ष 2011 में 28 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई

5. मोर्न मर्केल (Morne Merkel)

दिल्ली डेयरडेविल्स (Delhi Daredevils)

मोरन मर्केल को वर्ष 2012 में 25 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई

6. ड्वेन ब्रावो (Dwayne Bravo)

चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings)

डवेन ब्रावो को वर्ष 2013 में 32 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई


7. मोहित शर्मा (Mohit Sharma)

चेन्नई सुपरकिंग्‍स (Chennai Super Kings)

मोहित शर्मा को वर्ष 2014 में 23 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई

8. ड्वेन ब्रावो (Dwayne Bravo)

चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings)

डवेन ब्रावो को वर्ष 2015 में 26 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई

9. भुवनेश्‍वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar)

सनराइजस हैदराबाद (Snraijas Hyderabad)

भुवनेश्‍वर कुमार को वर्ष 2016 में 23 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई

10. भुवनेश्‍वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar)

सनराइजस हैदराबाद (Snraijas Hyderabad)

भुवनेश्‍वर कुमार को वर्ष 2017 में 26 विकेट लेने के लिए बैंगनी टोपी दी गई 

यह भी पढें
आईपीएल क्रिकेट में ओरेंज कैप पाने वाले खिलाडी
आईपीएल क्रिकेट का इतिहास

player who got the Orange Cap in IPL cricket in hindi



loading...

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें