लोदी वंश (lodi vansh) दिल्‍ली सल्‍तनत (Delhi Sultanate) का आखिरी वंश था इस वंश ने 1451 से 1526 तक शासन किया दिल्ली का प्रथम अफ़गान शासक परिवार लोदियों का था आइये जानते हैं लोदी वंश केे बारे में और अधिक जानकारी -Learn about the Lodi dynasty and its founder in Hindi - जानेंं लोदी वंश और उसके संस्‍थापक के बारे में   

जानेंं लोदी वंश और उसके संस्‍थापक के बारे में

History of Lodi dynasty in Hindi - लोधी वंश का इतिहास

  1. लोदी वंंश का संस्‍थापक बहलोल लोदी (Bahlol Lodi) था
  2. दिल्‍ली में प्रथम अफगान राज्‍य का संस्‍थापक भी बहलोल लोदी था
  3. बहलोल लोदी 10 अप्रैल 1451 ई ० को दिल्‍ली की राजगद्दी पर बैठा था
  4. बहलोल लोदी राजदरबार में सिंहासन पर न बैठकर अपने दरबारियों के बीच बैठता था
  5. बहलोल लोदी द्वारा जारी किये सिक्‍के बहलोल सिक्‍केे कहलाते थे
  6. बहलोल लोदी की मृत्‍यु जलाली के समीप 1489 में हुई थी
  7. बहलोल लोदी (Bahlol Lodi) की मृत्‍यु केे बाद उसका द्वतीय पुुत्र निजाम खॉ 17 जुलाई 1489 में सिकन्‍दर शाह लोदी की उपाधि ग्रहण कर दिल्‍ली की राजगद्दी पर बैठा था
  8. सिकन्‍दर शाह लोदी 1504 में आगरा (Agra) नगर  का निर्माण कराया तथा उसेे अपनी राजधानी बनाया था
  9. लोधी वंश का महानतम सुल्‍तान सिकन्‍दर शाह लोदी था
  10. सिकन्‍दर शाह लोदी की मृत्‍यु 21 नबम्‍वर 1517 ई० काेे अागरा में हुई थी
  11. सिकन्‍दर शाह लोदी (Sikandar Shah Lodhi) की मृत्‍यु के बाद उसका बडा बेटा इब्राहिम शाह लोदी 21 नबम्‍वर 1517 राजगद्दी पर बैठा था
  12. यह दिल्‍ली सल्‍तनत अथवा लोदी वंश का अंंतिम शासक था
  13. पानीपत का प्रथम युद्ध 21 अप्रैल 1526 ई० को बाबर और इब्राहिम लोदी (Ibrahim Lodi) के बीच हुआ था
  14. इस युद्ध में बाबर की जीत हुई थी
  15. पानीपत के प्रथम युद्ध (First battle of Panipat) में इब्रहीम लोदी की मृृत्‍यु हुई थी
  16. इब्रहीम लोदी एक मात्र ऐसा सुल्‍तान था जो युद्ध करतेे हुए मारा गया था
  17. इब्रहीम लोदी की मृत्‍यु के साथ ही दिल्‍ली सल्‍तनत का समापन हो गया था
  18. पहला अफगान शासक लोदी वंश का तथा दूसरा अफगान शासक सूर वंश का था
Lodhi Dynasty, History of Lodhi Dynasty, History of Lodhi Empire in India, last ruler of lodi dynasty, who founded lodi dynasty, Afghan Lodi Sultans, lodi dynasty founder


loading...

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें