जैसा कि हम जानते है कि चिकनगुनिया नामक बीमारी भी डेंगू (Dengue) की तरह मच्‍छर के काटने से फैलती है और आज कल यह बीमारी बहुत अधिक संख्‍या मेंं फैल रही है पर क्‍या आप जानते हैंं कि यह बीमरी कैसे फैलती है और इसके लक्षण क्‍या है अगर नहीं तो आइये जानते है What is Chikungunya - क्‍या है चिकनगुनिया

क्‍या है चिकनगुनिया

What is Chikungunya - क्‍या है चिकनगुनिया

चिकनगुनिया बीमारी अधिकतर गर्म देशों में पाई जाती है शुरूआत में यह बीमारी एशिया और अफ्रीका के देशों में होती रही है लेकिन आज कल यह बीमारी और देशों में भी फैैलने लगी है यह बीमारी मादा एडीज एजिप्टी नाम के मच्छर के काटने के कारण फैैलती है इस रोग को पहली बार मेरोन रोबिंसन तथा लुम्स्डेन ने वर्णित किया था. सबसे पहले चिकनगुनिया की शुरुआत 1952 में अफ्रीका में तंज़ानिया और मोजाम्बिक के आस पास हुई थी यह बीमारी भारत में 1960 के आस-पास फैली थी इस बीमारी को पूरे शरीर में फैैलने में 2 से 4 दिन का समय लगता है
चिकनगुनिया एक ऐसी बीमारी है जो एक बार अगर किसी इंसान को हो जाती है तो उसके दोवारा होनेे की संभावना बहुत कम हो जाती है
अगर आपको अपने आस-पास चिकनगुनिया केे मरीज के बारे में पता चलता है तो इसकी जानकारी तुरन्‍त स्‍वास्‍थ्‍य विभाग को दें और अगर आपको चिकनगुनिया के लक्षण महसूस हो रहे हों तो तुरन्‍त डॉक्‍टर से संंर्पक करें

Symptoms of Chikungunya - चिकनगुनिया के लक्षण

    • तेज बुखार
    • जोड़ों में तेज दर्द
    • रैशेज या चकत्ते पड़ जाना
    • मांसपेशियों में खिंचाव
    • चक्कर आना
    • उल्टी महसूस होना
    • तेज सिर दर्द
    • प्रकाश से भय लगना

Prevention of Chikungunya - चिकनगुनिया से बचाव


    • इस बीमारे बचने के लिए पूरे कप‍डे ही पहनें
    • अपने घर के आस-पास मच्‍छरों को इकठ्ठा ना होनेे दें
    • सोते समय मच्‍छर दानी का इस्‍तेमाल करें
    • घर में रखे पानी को ढक कर रखें
    • कूलर, गमले आदि का पानी रोज बदलते रहें
    • आपके घर केे आस-पास अगर पानी भरा हो तो उसमेंं पेट्रोल या केरोसिन का तेल डाल दें 

Chikungunya - Centers for Disease Control and Prevention, Prevention of Chikungunya Virus Infection, Chikungunya virus, chikungunya treatment, chikungunya symptoms, 


loading...

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें