लाला लाजपत राय (Lala Lajpat Rai) जिन्‍हें पंजाब केसरी (Punjab Kesari) के नाम भी जाना जाता था लालाजी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (Indian National Congress) के गरम दल के प्रमुख नेता थे उन्हें 'पंजाब के शेर' की उपाधि भी मिली थी आइये जानते हैं लाला लाजपत राय के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी - Important information about Lala Lajpat Rai

Important information about Lala Lajpat Rai

लाला लाजपत राय का जीवन परिचय - Lala Lajpat Rai Biography In Hindi

  1. लाला लाजपत राय का जन्म 28 जनवरी, 1865 ई. को पंजाब में हुआ था
  2. इनके पिता का नाम लाला राधाकृष्ण और माता का नाम गुलाब देवी था
  3. इनके पिता एक अध्यापक थे
  4. लाला लाजपत राय जी ने 1880 में कलकत्ता तथा पंजाब (Punjab) विश्वविद्यालय से एंट्रेंस की परीक्षा एक वर्ष में उत्तीर्ण की और वर्ष 1889 में वकालत की पढाई के लिए लाहौर के सरकारी विद्यालय में दाखिला लिया
  5. लाला जी कॉलेज के दिनों में ही स्वामी दयानंद सरस्वती द्वारा स्थापित आर्य समाज में शामिल हो गए
  6. वर्ष 1885 में उन्होंने सरकारी कॉलेज से द्वितीय श्रेणी में वकालत की परीक्षा उत्तीर्ण की और हिसार में अपनी वकालत शुरू कर दी
  7. लाला लाजपत राय का विवाह 13 वर्ष की छोटी सी आयु में ही हो गया था इनकी पत्नी का नाम राधा था
  8. लाला लाजपत राय भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के तीन प्रमुख हिंदू राष्ट्रवादी नेताओं में से एक थे
  9. उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में नरम दल का विरोध करने के लिए गरम दल का गठन किया
  10. लाला लाजपत राय, बाल गंगाधर तिलक और विपिन चन्द्र पाल इन तीनों को लाल-बाल-पाल कहा जाता था 
  11. लाला लाजपत राय को 3 मई 1907 को रावलपिंडी में अशांति पैदा करने के लिए गिरफ्तार कर लिया गया और छ: माह तक जेल में रखा गया
  12. लाला लाजपत राय नेे “यंग इंडिया” नामक एक पुस्तक लिखी
  13. वर्ष 1929 में जब कमीशन भारत आया तो लालाजी ने इसका विरोध किया क्‍योकि कमीशन में कोई भी भारतीय सदस्य नहीं था
  14. साइमन कमीशन का विरोध करते वक्‍त अंग्रेजाें की लाठीयाें के प्रहार केे कारण 17 नवंबर 1928 में उनकी मृत्यु हो गई
Lala Lajpat Rai Biography, History and Facts, Lala Lajpat Rai Facts, Short Essay on 'Lala Lajpat Rai' in Hindi


loading...

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें