प्रत्‍येक वर्ष 14 सितम्‍बर के दिन पूरेे देश में हिन्‍दी दिवस के रूप में मनाया जाता है इस दिन को पूूरे देश में हिन्‍दी की महत्‍व को प्रदर्शित करने के लिये मनाया जाता है तो आइये जानते हैंं हिंदी दिवस का महत्व (hindi diwas ka mahatva) - 

हिंदी दिवस का महत्व -Importance Of Hindi Diwas

सर्वप्रथम 14 सितंबर 1949 को संवैधानिक सभा के द्वारा आधिकारिक भाषा के रुप में देवनागरी लिपी में लिखी हिन्दी को स्वीकृत किया गया था और उसके बाद से हिन्‍दी भाषा भारत की राष्‍ट्रभाषा बन गई, हिन्‍दी भाषा पूरे विश्‍व में अंग्रेेजी और चीनी के बाद दूसरी सबसे बडी बोली जाने वाली भाषा है लेकिन आज के समय में लोग अंंग्रेजी भाषा काेे ज्‍यादा महत्‍व देनेे लगे है और ज्‍यादातर भारतीय अपने बच्‍चोंं को हिन्‍दी स्‍कूलों में न भेजकर अंग्रेजी स्‍कूूलों में भेजते हैं और यही कारण है कि आज के समाज में हिन्‍दी बोलने वालों की संख्‍या दिन प्रतिदिन कम होती जा रही है 
यहॉ तक कि ऐसा भी देखा गया है कि जहॉ ज्‍यादा शिक्षित समाज के लोग रहते हैै वहॉ हिन्‍दी बाेेलनेे में वे लोग अपने आप को अपमानित महसूस करते हैं और अगर कोई हिन्‍दी बोलता है तो उसे अपमानित भरी निगाह से देखते है और उसे अनपढ समझते हैंं 

हिन्‍दी के महत्‍व को और बढानेे के लिए भारत के राष्‍ट्रपति (President of India) द्वारा हिन्‍दी दिवस केे दिन नई दिल्ली के विज्ञान भवन में हिन्दी से संबंधित विभिन्न क्षेत्रों में श्रेष्ठता के लिये लोगों पुरस्कृत किया जाता है

hindi diwas par lekh, hindi diwas in hindi, information about Hindi Diwas


loading...

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें