प्रत्येक वर्ष 25 अप्रेल की दिन को विश्व मलेरिया दिवस (World Malaria Day) के रूप में मनाया जाता है इस दिवस को मनाने का उद्देश्य  मलेरिया बीमारी के प्रति लोगों को जागरूक करना है तो आइये जानते हैं विश्व मलेरिया दिवस के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी - Important Information about World Malaria Day

Important Information about World Malaria Day

विश्व मलेरिया दिवस के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी - Important Information about World Malaria Day


इस दिवस को मनाने की शुरुआत 25 अप्रैल, 2008 को हुई थी मलेरिया नामक बीमारी से हर वर्ष लाखों लोगों की जान चली जाती है इसी को ध्‍यान में रखकर यूनिसेफ (UNICEF) द्वारा इस दिवस काे मनाया जाता है पहले यह दिवस अफ़्रीका मलेरिया दिवस रूूप में मनाया जाता थ्‍ाा यह बीमारी 'प्रोटोजुअन प्लाज्‍मोडियम' नामक कीटाणु के मादा एनोफिलीज मच्छर के माध्यम से फैलते है इस की पहली बार खोज फ़्रांसीसी सैन्य चिकित्सक चार्ल्स लुई अल्फोंस लैवेरन ने की थी उन्‍‍‍‍हाेंंने पहली बार अल्जीरिया में काम करते हुए लाल रक्त कोशिका के अन्दर परजीवी को देखा था तब उन्होंने यह प्रस्तावित किया कि मलेरिया रोग का कारण यह प्रोटोज़ोआ परजीवी है इस खोज के लिए उन्हें चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार दिया गया था 

ऐसा माना जाता है कि मलेरिया का मच्‍छर घारों में रखे साफ पानी में पैदा होता है तो कभी आपने आस-पास पानी को भारा ना रहने दें और कोशिश करें कि अपने घरों के आस-पास गंदगी ना होने दें अगर आपके घरों के आस-पास पानी भरा भी हो तो उस पानी में केरोसिन डाल दें जिससे उसमें पनपने वाले मच्‍छर मर जायें 

इस बीमारी में तेज बुखार का आना, कंपकंपी, जोड़ों में दर्द, उल्टी आदि हैं अगर आपको ऐसी कोई परेशानी हो तो तुरंत डॉक्‍टर से संर्पक करें 

Tag - World Malaria Day, World Malaria Day 2017, 7 Facts You Need to Know About World Malaria Day


loading...

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें