अभिमन्‍यु भारद्वाज 10:35:00 PM A+ A- Print Email
आंध्र प्रदेश Andra Pradesh भारत के दक्षिण-पूर्वी (Southeast) तट पर स्थित राज्य है क्षेत्र के अनुसार यह भारत का चौथा सबसे बड़ा और जनसंख्या की दृष्टि से आठवां सबसे बड़ा राज्य है अब तक 24 लोग इस राज्‍य के मुख्‍यमंत्री के रूप में कार्य कर चुके हैं तो आइये जानते हैं अब तक रहे आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्रियों की सूची - Chief Ministers of Andra Pradesh

अब तक रहे आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्रियों की सूची - Chief Ministers of Andra Pradesh

















































































































































क्र.सं.मुख्‍यमंत्रियों के नामकार्यकाल
1टी.प्रकाशम1 अक्‍टूबर 1953 - 15 नवम्‍बर 1954
-राष्‍ट्रपति शासन15 नवम्‍बर 1954 - 28 मार्च 1955
2बी.जी.रेड्डी28 मार्च 1955 - 1 नवम्‍बर 1956
3एन. संजीव रेड्डी1 नवम्‍बर 1956 - 11 जनवरी 1960
4दामोदरन संजीवावैय्या11 जनवरी 1960 - 12 मार्च 1962
5एन. संजीव रेड्डी12 मार्च 1962  - 29 फरवरी 1964
6के ब्रह्मानन्‍द रेड्डी29 फरवरी 1964 - 30 सितम्‍बर 1971
7पी॰ वी॰ नरसिम्हा राव30 सितम्‍बर 1971 - 10 जनवरी 1973
-राष्‍ट्रपति शासन10 जनवरी 1973 -10 दिसम्‍बर 1973
8जे.वी.राव10 दिसम्‍बर 1973 - 6 मार्च 1978
9एम.सी.रेड्डी6 मार्च 1978  - 11 अक्‍टूबर 1980
10टी. अनजेयाह11 अक्‍टूबर 1980 - 24 फरवरी 1982
11भवाराम वेंकटरमण रेड्डी24 फरवरी 1982 - 20 सितम्‍बर 1982
12के.वी भास्‍कर रेड्डी20 सितम्‍बर 1982 - 9 जनवरी 1983
13एन.टी रामाराव9 जनवरी 1983 - 16 अगस्‍त 1984
14एन. भास्‍कर राव16 अगस्‍त 1984 - 16 सितम्‍बर 1984
15एन.टी रामाराव16 सितम्‍बर 1984 - 3 दिसम्‍बर 1989
16एम सी रेड्डी3 दिसम्‍बर 1989 - 17 दिसम्‍बर 1990
17एन. जनार्दन रेड्डी17 दिसम्‍बर 1990 -  9 अक्‍टूबर 1992
18के.वी.भास्‍कर रेड्डी9 अक्‍टूबर 1992 - 12 दिसम्‍बर 1994
19एन.टी रामाराव12 दिसम्‍बर 1994 - 1 सितम्‍बर 1995
20एन.चन्‍द्रबाबू नायडू1 सितम्‍बर 1995 - 14 मई 2004
21वाई.एस.राजशेखर रेड्डी14 मई 2004 - 2 सितम्‍बर 2009
22के . रोसैय्या2 सितम्‍बर 2009  - 25 नवम्‍बर 2010
23नल्‍लारी किरण कुमार रेड्डी25 नवम्‍बर 2010 - 1 मार्च 2014
-राष्‍ट्रपति शासन1 मार्च 2014 - 8 जून 2014
24एन.चन्‍द्रबाबू नायडू8 जून 2014 - अब तक

Post a Comment

यह बेवसाइट आपकी सुविधा के लिये बनाई गयी है, हम इसके बारे में आपसे उचित राय की अपेक्षा रखते हैं, कमेंट करते समय किसी भ्‍ाी प्रकार की अभ्रद्र भाषा का प्रयोग न करें